डीएम एक्सन मे जिला प्रशासन की कार्यप्रणाली को दुरुस्त करने में जुटे

मधुवनी । समाहरणालय सभाकक्ष में जिला पदाधिकारी अमित कुमार की अध्यक्षता में जिला स्तरीय पदाधिकारियों के साथ बैठक हुई। बैठक में कहा गया कि पूर्व में प्रत्येक सोमवार को जिला स्तरीय पदाधिकारियों की बैठक होती थी, लेकिन पिछले वर्ष कोरोना एवं विधान सभा आम चुनाव में व्यवस्ता के कारण सप्ताहिक बैठक नहीं हो रही थी। लेकिन अब प्रत्येक सोमवार को सुबह ग्यारह बजे से समाहरणालय सभाकक्ष में जिलास्तरीय सभी पदाधिकारियों की बैठक होगी।

यदि अपरिहार्य कारण से सोमवार को बैठक नहीं की जा सकी तो अगले दिन की जाएगी। बैठक में डीएम द्वारा दिए गए निर्देश डीएम ने सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि बैठक में जिन बिंदुओं पर निर्देश दिया जाएगा,उसका अनुपालन रिपोर्ट अगली बैठक से एक दिन पूर्व जिला गोपनीय शाखा को हर हाल में उपलब्ध कराने सुनिश्चित करें।

सभी शाखा के प्रभारी पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया कि डीएम को निष्पादन के लिए भेजी जाने वाली संचिकाएं वरीय पदाधिकारी के माध्यम से ही भेजी जाए। संचिकाओं के निष्पादन में पूर्व डीएम द्वारा संचिका में टिप्पणी भाग में संचिका संख्या, प्रभारी लिपिक का नाम, संचिका का विषयवस्तु अंकित कर संधारण करने का निर्देश दिया गया था, जिसका हर हाल में पालन सुनिश्चित करें।

सभी शाखा के प्रभारी पदाधिकारी एवं प्रधान लिपिक को निर्देश दिया गया कि यदि किसी विषय की संचिका पूर्व से चल रही है, तो तत्संबधी मामले संबधित संचिका में ही उपस्थापित करें। यदि अलग से कोई नया मामला आता है तो प्रभारी पदाधिकारी स्वयं समीक्षा कर लें, इसके बाद ही नई संचिका खोलें।अपर समाहर्ता एवं डीडीसी जो समाहरणालय के विभिन्न शाखा के वरीय प्रभार में है, वे शाखाओं का निरीक्षण कर निरीक्षण रिपोर्ट जल्द समर्पित करें। सभी प्रखंडों के प्रभारी पदाधिकारी अपने-अपने प्रभार के प्रखंड कार्यालय का निरीक्षण कर निरीक्षण रिपोर्ट समर्पित करें। जिला स्थापना उप समाहर्ता प्रत्येक दिन एचआरएमएस के तहत सेवा पुस्तिका का इंट्री संबंधी रिपोर्ट समर्पित करें।

भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया गया कि जिन प्रखंडों में नया भवन तैयार है उसे संबधित बीडीओ को अविलम्ब हस्तगत कराकर अनुपालन रिपोर्ट समर्पित करें। उप विकास आयुक्त, जिला पंचायत राज पदाधिकारी एवं सभी प्रखंडों के प्रभारी पदाधिकारी क्षेत्र भ्रमण के क्रम में हर घर नल का जल योजना की समीक्षा एवं स्थल निरीक्षण कर हर हाल में रिपोर्ट समर्पित करें। मुख्यमंत्री सचिवालय से प्राप्त होने वाले परिवाद पत्रों का निष्पादन ससमय सुनिश्चित करें। विधान सभा प्रश्न,आश्वासन से संबधित लंबित मामलों की सूची तैयार कर उपस्थापित करें। बाल सुधार बालिकाओं के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था पर बल दिया जाए।

जिला पदाधिकारी अमित कुमार की अध्यक्षता में जिला कौशल विकास समिति की बैठक जिला मुख्यालय में आयोजित की गई। जिसमें समिति के नामित पदाधिकारियों ने भाग लिया। इस बैठक में जिला पदाधिकारी ने सबसे पहले प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना की समीक्षा किया। इस समीक्षा के दौरान जिला कौशल प्रबंधक अमित कुमार सिंह जिला कौशल प्रबंधक ने प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना-3 के बारे में विस्तृत रूप से बैठक में जानकारी दी। जिला स्कील डेवलपमेंट प्लान 2020-21 के जॉब रोल्स के संबंध में गठित समिति द्वारा जॉब रुल्स पर सहमति जताई गई। समीक्षा के दौरान जिला प्रोग्रामपदाधिकारी-आइसीडीस ने सुझाव दिया कि बाल सुधार बालिकाओं के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाए।

वहीं, कृषि विभाग ने मखाना ग्रोविग सह प्रोसेसिग के लिए लैब की व्यवस्था किए जाने की आवश्यकता पर बल दिया। जिला में स्थित प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना केन्द्रों पर चालू वित्तीय वर्ष से स्वीइंग मशीनऑपरेटर, फ्रंटलाइन हेल्थ वर्कर, कस्टमर केयर एक्सकूटिव, सोलर पीवी इंसटॉलर, ऑटोमेटिक सर्विस टेक्निसियन, सीसीटीवी इंसटॉलेशन जैसे क्षेत्र में युवकों को कौशल प्रदान किया जा रहा है। उक्त समीक्षा बैठक में जिला नियोजन पदाधिकारी, श्रम अधीक्षक, जीएम- डीआईसी, नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी, डीपीओ-अइसीडीएस, जिला कृषि पदाधिकारी आदि मौजूद थे।

प्रतिक्रिया दिनुहोस

सम्बन्धित समाचार

ताजा समाचार

लोकप्रिय

नेपाल प्रहरी

नेपाल प्रहरीका केन्द्रीय प्रवक्ताबाट गत साउन महिनामा विभिन्न व्यक्ति तथा संस्थालाई सूचना प्रवाह

नेपाल प्रहरीका केन्द्रीय प्रवक्ताबाट गत साउन महिनामा विभिन्न व्यक्ति तथा संस्थालाई सूचना प्रवाह

काठमाडौं । नेपाल प्रहरीका केन्द्रीय प्रहरी प्रवक्ता प्रहरी नायव महानिरीक्षक कुवेर कडायतले गत साउन महिनामा व्यक्ति र संस्था गरी जम्मा ९९ जनालाई नेपाल प्रहरीसँग सम्बन्धित..